Categories

Recent post

  • आइए जानते है नवरात्रि का क्या है महत्व ? क्यों होती है 9 कन्याओं का पूजन और कौनसे दिन किस देवी की पूजा करने से क्या होता है लाभ..

    client-image

    client-imagePosted by Raoji Online
  • थार की लोक संस्कृति में जानते है फड़, फड के प्रकार, भोपें, पवाडे, माटे, माटा वादन

    client-image

    client-imagePosted by Raoji Online
    पाबूजी की फड़ एक प्रकार का गीत नाट्य है, जिसे अभिनय के साथ गाया जाता है। यह सम्पूर्ण राजस्थान में विख्यात है। 'फड़' लम्बे कपड़े पर बनाई गई एक कलाकृति होती है, जिसमें किसी लोक देवता (विशेष रूप से पाबूजी या देवनारायण) की कथा का चित्रण किया जाता है। फड़ को लकड़ी पर लपेट कर रखा जाता है। इसे धीरे-धीरे खोल कर भोपा तथा भोपी द्वारा लोक देवता की कथा को गीत व संगीत के साथ सुनाया जाता है। पाबूजी के अलावा अन्य लोकप्रिय फड़ 'देवनारायण जी की फड़' होती है।

Recent post

>